Aisa Zakhm Diya Hai (From "Akele Hum Akele Tum")

आया हूँ यारों दिल अपना देके
आँखों में चेहरा किसी का लेके
वो दिल का क़ातिल दिलबर हमारा
जिसके लिए मैं हुआ आवारा
मिलते ही जिसने चूमा था मुझको
फिर ना पलटके देखा दोबारा

और इसीलिए दोस्तों मैंने फ़ैसला किया
के फिर कभी किसी से प्यार नहीं करूँगा
कभी किसी लड़की को अपना दिल नहीं दूँगा

ऐसा ज़ख़म दिया है जो ना फिर भरेगा
हर हसीन चेहरे से अब ये दिल डरेगा
हम तो जान दे कर यूँ ही मर मिटे थे
सुन लो ऐ हसीनों ये हम से अब ना होगा

ऐसा ज़ख़म दिया है जो ना फिर भरेगा
हर हसीन चेहरे से अब ये दिल डरेगा
हम तो जान दे कर यूँ ही मर मिटे थे
सुन लो ऐ हसीनों ये हम से अब ना होगा
ऐसा ज़ख़म दिया है...

रसीले होंठ, छलकते गाल
मस्तानी चाल बुरा कर दे हाल
पलक फड़के के दिल धड़के
उमर की उठान कड़कती कमाल
क़ातिल अदा, ज़ालिम हया
मेरे खुदा, मेरे खुदा

शोला बदन, बहका चमन, मगर यारों
हम तो जान दे कर यूँ ही मर मिटे थे
सुन लो ऐ हसीनों ये हम से अब ना होगा

ऐसा ज़ख़म दिया है जो ना फिर भरेगा
हर हसीन चेहरे से अब ये दिल डरेगा
हम तो जान दे कर यूँ ही मर मिटे थे
सुन लो ऐ हसीनों ये हम से अब ना होगा
ऐसा ज़ख़म दिया है...

रसीले होंठ, छलकते गाल
मस्तानी चाल बुरा कर दे हाल
पलक फड़के, हाए, के दिल धड़के
उमर की उठान कड़कती कमाल
क़ातिल अदा, ज़ालिम हया
मेरे खुदा, ओ मेरे खुदा

तू जो कहे तो तारों में तुझे लेकर चलूँ
तू जो कहे तो क़दमों में उन्हें ला डाल दूँ
सीने से लगा के ये बदन कर दूँ गुलाबी
चेहरा चूम कर के मैं बना दूँ आफ़ताबी

हम तो जान दे कर तुम पे मर मिटे है
कौन प्यार तुमसे इतना करेगा?

ऐसा ज़ख़म दिया है जो ना फिर भरेगा
हर हसीन चेहरे से अब ये दिल डरेगा
ऐसा ज़खम दिया है...

आया हूँ यारों दिल अपना लेके
आँखों में चेहरा किसी का लेके
कोई ना कोई मेरा भी होगा
यहीं पे कहीं छुपा ही होगा



Credits
Writer(s): Majrooh Sultanpuri
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link