Yaar Badal Na Jaana

अरमानों के इस गुलशन में
तुम आए हो सावन की तरह
यार, बदल ना जाना मौसम की तरह
ओ, मेरे यार, बदल ना जाना मौसम की तरह

तुम क्या जानो, मेरे दिल में
तुम रहती हो धड़कन की तरह
यार, बदल ना जाना मौसम की तरह
ओ, मेरे यार, बदल ना जाना मौसम की तरह

सागर के संग लहर, किरण सूरज के साथ में चलती है
शमा हमेशा परवाने की चाहत में ही जलती है
हो, फूल में ख़ुशबू रहती है और सीप में मोती रहता है
"तेरा-मेरा होगा मिलन," धरती से अंबर कहता है

मेरे होंठों पे रहना हर दम
साज़ों में छुपी सरगम की तरह
यार, बदल ना जाना मौसम की तरह
ओ, मेरे यार, बदल ना जाना मौसम की तरह

मिलके जुदा अब होने से, दिल क्यूँ डरता है खोने से?
हाँ, मिलके जुदा अब होने से, दिल क्यूँ डरता है खोने से?
मैं तेरे साथ में अब रहूँगा सदा, मैंने ली है क़सम
है मेरा फ़ैसला, आख़िरी साँस तक हम ना होंगे जुदा

यार, बदल ना जाना मौसम की तरह
ओ, मेरे यार, बदल ना जाना मौसम की तरह

तुम क्या जानो, मेरे दिल में
तुम रहती हो धड़कन की तरह
यार, बदल ना जाना मौसम की तरह
ओ, मेरे यार, बदल ना जाना मौसम की तरह

सरकार, बदल ना जाना मौसम की तरह
देखो, यार, बदल ना जाना मौसम की तरह



Credits
Writer(s): Sameer
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link