Gudiya Jaisi Ladki Hai

गुड़िया जैसी लड़की है
चिंगारी सी भड़की है
ो गुड़िया जैसी लड़की है
चिंगारी सी भड़की है
ो फेक दो इसको पानी में
के लगे न ाग जवानी में

तन है गिला गिला
रूप है रसीला और मतवाली चाल है
बल भीगे भीगे काम
फीके फीके गुस्से में
चेहरा लाल है
मिली है रुत मस्तानी में
के लगे न ाग जवानी में
गुड़िया जैसी लड़की है
चिंगारी सी भड़की है
ो फेक दो इसको पानी में
के लगे न ाग जवानी में

चोरी गोरी गोरी दूध की कटोरी
हुस्न पर मांग रुर है
तू हसीन है मन
पर ए जाने जाना
तू परी है न हुर है
देख ले सुरत पानी में
के लगे न ाग जवानी में
गुड़िया जैसी लड़की है
चिंगारी सी भड़की है
ो गुड़िया जैसी लड़की है
चिंगारी सी भड़की है
ो फेक दो इसको पानी में
के लगे न ाग जवानी में



Credits
Writer(s): Jatin Pandit, Lalitraj Pandit, Mahendra Dehlvi
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link