Tabaah Ho Gaye

दी नहीं दुआ भले, ना दी कभी बददुआ
ना ख़फ़ा हुए, ना हम हुए कभी बेवफ़ा
तुम अगर बेवफ़ा हो गए, क्यूँ ख़फ़ा हो गए?
के तुमसे जुदा होके हम तबाह हो गए, तबाह हो गए
तबाह हो गए, तबाह हो गए

फिर अखियन में दीद के तेरी दीप जला जाना
मोहे छोड़ के जाने की ख़ातिर ही लौट के आ जाना
फिर अखियन में दीद के तेरी दीप जला जाना
मोहे छोड़ के जाने की ख़ातिर ही लौट के आ जाना (हाँ)

ग़ैर के हमनवा हो गए, क्यूँ ख़फ़ा हो गए?
के तुमसे जुदा होके हम तबाह हो गए, तबाह हो गए
तबाह हो गए, तबाह हो गए

हाँ, सजदे में हमने माँगा था
उमर भी हमारी लग जाए तुमको
खुद से ही तौबा करते थे
नज़र ना हमारी लग जाए तुमको

हाँ, सजदे में हमने माँगा था
उमर भी हमारी लग जाए तुमको
खुद से ही तौबा करते थे
नज़र ना हमारी लग जाए तुमको

हम मगर...
हम मगर नागवारा तुम्हें इस तरह हो गए
के तुमसे जुदा होके हम तबाह हो गए, तबाह हो गए
तबाह हो गए, तबाह हो गए

तबाह हो गए



Credits
Writer(s): Amitabh Bhattacharya, Pritaam Chakraborty
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link