Ab Mujhe Raat Din

हे हे ज़ू
हम्म हम्म हम्म हे हे हे
अब मुझे रात दिन तुम्हारा ही ख़्याल है
अब मुझे रात दिन तुम्हारा ही ख़्याल है
क्या कहूँ प्यार में दीवानों जैसा हाल है
दीवानों जैसा हाल है, तुम्हारा ही ख़्याल है
ओ ओ ओ हा हा हा ला ला ला

अब मुझे रात दिन तुम्हारा ही ख़्याल है
क्या कहूँ प्यार में दीवानों जैसा हाल है

तुम को देखे बिना चैन मिलता नहीं
दिल पे अब तो कोई ज़ोर चलता नहीं
जादू है कैसा, दिल की लगी में
डूब गया हूँ, इस बेख़ुदी में
ओ ओ ओ हा हा हा ला ला ला
अब मुझे रात दिन तुम्हारा ही ख़्याल है
क्या कहूँ प्यार में दीवानों जैसा हाल है

हर पल ढूंढे़ नज़र तुम को ही जान-ए-मन
हद से बढ़ने लगा मेरा दीवानापन
दिल में बसा लूँ, अपना बना लूँ
या फिर नज़र में, तुमको छुपा लूँ
ओ ओ ओ हा हा हा ला ला ला
अब मुझे रात दिन (अब मुझे रात दिन)
तुम्हारा ही ख़्याल है (तुम्हारा ही ख़्याल है)
क्या कहूँ प्यार में (क्या कहूँ प्यार में)
दीवानों जैसा हाल है (दीवानों जैसा हाल है)
दीवानों जैसा हाल है
तुम्हारा ही ख़्याल है
ओ ओ ओ हा हा हा ला ला ला
ओ ओ ओ हा हा हा ला ला ला



Credits
Writer(s): Sajid-wajid, Faaiz Anwar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link