Dil Hai Nadaan

हर पल तेरी याद है इस दिल में
हर पल तेरा ख़याल है इस दिल में
ना चाहते हुए भी तू क़रीब है
तू समझे, ना समझे मेरा नसीब है

ज़ुबाँ से मैं कुछ कह नहीं पाया
नज़रों को कोई मेरी समझ नहीं पाया
तू मेरे प्यार की तस्वीर है
तू मेरे प्यार की तक़दीर है

सुना था और भी ग़म है
मोहब्बत के सिवा ज़माने में
अब हम ने जाना मोहब्बत का ग़म
सब से बड़ा ग़म है ज़माने में

मगर समझाऊँ कैसे इस दिल को?
क्या बताऊँ अब इस दिल को?
दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने

दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने
दिल ही जाने, दिल ही जाने

वाह! राधा, तुम भी तो कुछ कहो ना

मेरे सनम, तुम मेरा अरमान हो
मेरे सनम, तुम मेरा गुमान हो
मेरे सनम, तुम मेरी पहचान हो
मेरे सनम, तुम मेरी जान हो

मेरी साँसों में तेरी याद है
हर एक नाम तुम्हारे बाद है
रिश्ते बदलते हैं, दिल नहीं बदलता
राही बदलते हैं, रास्ता नहीं बदलता

मोहब्बत में हर मोड़ पर
दिल को समझाना पड़ता है
मुस्कुराते हुए हर ग़म को
छुपाना पड़ता है

मगर समझाऊँ कैसे इस दिल को?
क्या बताऊँ अब इस दिल को?
दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने

दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने
दिल ही जाने, दिल ही जाने

रवि साहब, सुनिए तो
मैंने और राधा ने तो कह दिया
आप भी तो कुछ कहे, hmm? Hmm

जान-ए-वफ़ा, तू जान है मेरी
आन, बान और शान है मेरी
तू है इबादत, तू है पूजा
तुझ सा नहीं दुनिया में दूजा

यार, तुझे बस प्यार किया है
हम ने तो ऐतबार किया है
फिर भी ऐसा क्यूँ लगता है?
बेगानापन क्यूँ दिखता है?

अपने सनम की आँखों में
अपने सनम की बातों में
बार-बार यही ख़याल मुझको आता है
कोई और भी है ऐसा
जो तुझे मुझसे दूर लिए जाता है

अब समझाऊँ कैसे इस दिल को?
दिल है नादान, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने

दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने
दिल ही जाने, दिल ही जाने

तुमसे शिकायत है बस इतनी
कर दो इनायत हम पर इतनी
दिल की बात ज़ुबाँ पर लाओ
इज़हार-ए-मोहब्बत तुम कर जाओ

ऐसा भी दिल आ जाएगा
इज़हार-ए-मोहब्बत हो जाएगा
अतीत का पंछी उड़ जाएगा
किशन तुम्हारा हो जाएगा

औरत का हर जनम है सीता
पार नहीं कर सकती रेखा
मर्यादा ने जिसको खींचा
रस्मों-रिवाजों ने जिसको सींचा

सच कहते हैं पंडित-जोगी
राम मिलाएँ जग में जोड़ी
दिल का बंधन सब से बड़ा है
दिलों का संगम सब से बड़ा है

मगर समझाएँ कैसे इस दिल को?
क्या बताएँ अब इस दिल को?
दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने

दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने
दिल ही जाने, दिल ही जाने

दिल है नादाँ, ये ना माने
दिल की बातें दिल ही जाने
दिल ही जाने, दिल ही जाने



Credits
Writer(s): Himesh Vipin Reshammiya, Sudhakar Sharma
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link