Jo Tune Likha

तू सब को सँभाले है
हम तेरे हवाले हैं
मेरे मौला, तू दे रास्ता
मेरे मालकाँ, मेरा है वास्ता

तूने ही दी साँस है, तुझ पे आस है
बस तू ही जाने जो तूने लिखा
होना वो जो तूने तय किया
अंधियारा तेरा, तेरी है सुबह
बस तू ही जाने जो तूने लिखा

मेरी नज़र है लगी तेरी ही दहलीज़ पे
खाली हथेली पे तू तक़दीरें फिर खींच दे
तेरे आगे मेरा सर झुका
पहरे हटा दे, मैं हूँ डर चुका

तेरे रास्तों से मैं भटका हूँ मगर
घर लौटा दे तू फिर से आ मुझे
ग़लती हो जाती है आख़िर सब से
अंधियारा तेरा, तेरी है सुबह
बस तू ही जाने जो तूने लिखा

मेरे बिछाए हुए, आके मुझे ही चुभे
आए नज़र क्यूँ नहीं काँटे जो बारीक थे
मैंने काटा जो कल बोया था
पाने के लिए मैं पागल हो गया

जागा हूँ मैं नींद से, जागा देर से
घबराया सा हूँ मैं, फिर थाम ले
सरमाया तू मेरा है, मान ले
अंधियारा तेरा, तेरी है सुबह
बस तू ही जाने जो तूने लिखा

होना वो जो तूने तय किया
अंधियारा तेरा, तेरी है सुबह
बस तू ही जाने जो तूने लिखा



Credits
Writer(s): Kunaal Vermaa, Sahaj
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link