Ae Mere Dil Jo Chal Diye

ऐ मेरे दिल, जो चल दिए, कैसे क़रार पाएँगे?
ऐ मेरे दिल, जो चल दिए...
छोड़ के किसी की गली हम तो कहीं ना जाएँगे
ऐ मेरे दिल, जो चल दिए...

प्यार का वतन यही, है यही प्यार का जहाँ
दूर ये जहान से कैसे रहेंगे, मेरी जाँ?
फिर कैसे हम तुझको बहलाएँगे?

छोड़ के किसी की गली हम तो कहीं ना जाएँगे
ऐ मेरे दिल, जो चल दिए...

ग़म मिलें तो ग़म ना कर, ग़म ही छिपे हैं चाह में
फूल के लिए अभी काँटें मिलेंगे राह में
सोचा है काँटों पे सो जाएँगे, सोचा है काँटों पे सो जाएँगे

छोड़ के किसी की गली हम तो कहीं ना जाएँगे
ऐ मेरे दिल, जो चल दिए...

'गर वो तेरे नहीं तो फिर किसका इंतज़ार है?
बेक़रार होके भी कैसे हमें क़रार है?
ये तुझको फ़ुर्सत में समझाएँगे

छोड़ के किसी की गली हम तो कहीं ना जाएँगे
ऐ मेरे दिल, जो चल दिए...



Credits
Writer(s): Majrooh Sultanpuri
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link