Aaj Phir Jeene Ki Tamanna Hai

काँटों से खींच के ये आँचल
तोड़ के बंधन बांधे पायल
कोई न रोको दिल की उड़ान को
दिल वो चला हा हा हा हा

आज फिर जीने की तमन्ना है

आज फिर मरने का इरादा है

आज फिर जीने की तमन्ना है

आज फिर मरने का इरादा है

अपने ही बस में नहीं मैं
दिल है कहीं तो हूँ कहीं मैं
हो अपने ही बस में नहीं मैं
दिल है कहीं तो हूँ कहीं मैं
हो जाने का पया के मेरी ज़िंदगी ने
हँस कर कहा, हाहा हा हा हा

आज फिर जीने की तमन्ना है

आज फिर मरने का इरादा है

आज फिर जीने की तमन्ना है
आज फिर मरने का इरादा है

मैं हूँ गुबार या तूफ़ां हूँ
कोई बताए मैं कहाँ हूँ
हो मैं हूँ गुबार या तूफ़ां हूँ
कोई बताए मैं कहाँ हूँ
हो डर है सफ़र में कहीं खो न जाऊँ मैं
रस्ता नया, आ आ आ आ आ

आज फिर जीने की तमन्ना है

आज फिर मरने का इरादा है

आज फिर जीने की तमन्ना है
आज फिर मरने का इरादा है

कल के अंधेरों से निकल के
देखा है आँखें मलते-मलते
हो कल के अंधेरों से निकल के
देखा है आँखें मलते-मलते
हो फूल ही फूल ज़िंदगी बहार है
तय कर लिया, आ आ आ आ आ

आज फिर जीने की तमन्ना है

आज फिर मरने का इरादा है

आज फिर जीने की तमन्ना है
आज फिर मरने का इरादा है



Credits
Writer(s): Burman S D, Shailendra
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link