Kasme Vaade Nibhayenge Hum - Part I

क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम
ओ, क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम

ओ, देखा मैंने तुझको
तो मुझे ऐसा लगा
बरसों का सोया हुआ
प्यार मेरा जगा

तू है दीया, मैं हूँ बाती
आजा, मेरे जीवन साथी

क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम

चेहरों से हो अनजाने हम
दिल तो दिल को पहचाने
कभी प्यार नहीं मरता है
पागल प्रेमी ही जाने

आ जाती है लब पे ख़ुद ही
भूली-बिसरी बात

हो, क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम

तू है मेरे जीने का सहारा
सदियों पुराना है साथ हमारा

तू है दीया, मैं हूँ बाती
आजा, मेरे जीवन साथी

हो, क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम

जिस दिल में प्यार बसा है
वो दिल भगवान की मूरत
ये मूरत कभी ना बदले
बदले इंसान की सूरत

दिल के बंधन इतने सच्चे
जितने ये दिन-रात

ओ, क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम
क़समें-वादे निभाएँगे हम
मिलते रहेंगे जनम-जनम



Credits
Writer(s): R.d. Burman, Gulshan Bawra
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link