Tumse Milkar Na Jane (From "Pyar Jhukta Nahin")

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
और भी कुछ याद आता है, याद आता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
और भी कुछ याद आता है, याद आता है

आज का अपना प्यार नहीं है
आज का अपना प्यार नहीं है
जन्मों का ये नाता है, ये नाता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!

हो, प्यार के क़ातिल, प्यार के दुश्मन, लाख बनी ये दुनिया दीवानी
ओ, हमने वफ़ा की राह ना छोड़ी, हमने तो अपनी हार ना मानी
उस मोड़ से भी हम गुज़रे हैं, जिस मोड़ पे सब लुट जाता है, लुट जाता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
और भी कुछ याद आता है, याद आता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!

एक तेरे बिना इस दुनिया की हर चीज़ अधूरी लगती है
तुम पास हो, कितने पास, मगर नज़दीकी भी दूरी लगती है
प्यार जिन्हें हो जाए उन्हें कुछ और नज़र कब आता है, कब आता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
और भी कुछ याद आता है, याद आता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!

मर के भी कभी जो ख़त्म ना हो, ये प्यार का वो अफ़साना है
तुम भी जो हमारे साथ चलो, तो हमको वहाँ तक जाना है
वो झूम के अपनी धरती से आकाश जहाँ मिल जाता है, मिल जाता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
और भी कुछ याद आता है, याद आता है

तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!
तुमसे मिलकर ना जाने क्यूँ!



Credits
Writer(s): Laxmikant Kudalkar, Sharma Pyarelal, S. H. Bihari
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link