Mother Song (Hindi)

ना देखा मुखड़ा कोई, ना तो सुनी किसी की बोली
माँ, तुझको ही देखा पहली दफ़ा
ना देखा नीला गगन, ना तो सुनी लोरी कभी भी
माँ, तुझसे पहली लोरी सुनी

तेरी बाँहों में रहता था, तेरी ही ख़ुशबू में बहता था
मेरी अँखियों में रूप तेरा, तू मेरा जहाँ
तूने चलना सिखाया है, गिरके सँभलना सिखाया है
तूने ही मुझको शब्द दिया, तू मेरी ज़ुबाँ

ओ, माँ, तू ही मेरी गीता, ओ, माँ, तू ही आत्मा
ओ, माँ, तू ही है मेरा पता
ओ, माँ, तू ही मेरी जाँ, ओ, माँ, तू है जहाँ
ओ, माँ, मैं हूँ वहाँ-वहाँ

तूने ही मुझको जनम दिया, तूने ही मुझको बड़ा किया
दर्द लिया, ख़ुशियाँ दी, बड़ा एहसान किया
तूने तो मेरी ममता पे सबकुछ अपना वार दिया
सिर्फ़ जिया मेरे लिए ही, मेरे लिए सजदा किया

मैं तेरे एहसानों का कर्ज़ चुकाऊँ कैसे?
मैं बेटा होने का फ़र्ज़ निभाऊँ कैसे?
ओ, माँ, ओ, माँ, मेरी माँ

ओ, माँ, तू ही मेरी गीता, ओ, माँ (ओ, माँ), तू ही आत्मा
ओ, माँ, तू ही है मेरा पता (ओ, माँ)
ओ, माँ, तू ही मेरी जाँ, ओ, माँ (माँ), तू है जहाँ
ओ, माँ, मैं हूँ वहाँ-वहाँ



Credits
Writer(s): Yuvan Shankar Raja, S. Vigneshwar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link