Aaja Mahiya

माही माही रे ...
माही माही रे
माही माही रे ... माही माही रे. माही माही रे ...
माही माही रे...
आजा माही मेरे, आजा माही मेरे, आजा माही मेरे आ
आजा माही मेरे, आजा माही मेरे, आजा माही मेरे आ
आ धूप मलूँ मैं तेरे हाथों में
आ सजदा करूँ मैं तेरे हाथों में
ओ सुबह की मेहँदी
छलक रही है आजा. आजा माहिया
आजा माहिया, आजा. आजा माहिया,
हो आजा माहिया

आजा माही मेरे, आजा माही मेरे, आजा माही मेरे आ
आजा माही मेरे, आजा माही मेरे, आजा माही मेरे आ

अहिस्ता पुकारो सब सुन लेंगे
बस लबों से छू लो लब सुन लेंगे
ओ आँख भी कल से
फड़क रही है आजा. आजा माहिया
आजा माहिया, आजा. आजा माहिया,
हो आजा माहिया

एक नूर से आँखें चौंक गयी
देखा जो तुझे आईने में
एक नूर से आँखें चौंक गयी
देखा जो तुझे आईने में
(आजा माहिया. आजा माहिया.)
कोई नूर किरण होगी वो भी
जो चुभने लगी है सीने में
(आजा माहिया. आजा माहिया.)

आ धूप मलूँ मैं तेरे हाथों में
आ सजदा करूँ मैं तेरे हाथों में
ओ सुबह की मेहँदी
छलक रही है आजा.
आजा माहिया. हो आजा माहिया
आजा. आजा माहिया, हो आजा माहिया

माही माही रे. माही माही रे.
माही माही रे.

लाल हो जब ये शाम किनारा
ओढ़ा देना सर पे सारा
लाल हो जब ये शाम किनारा
ओढ़ा देना सर पे सारा
(आजा माहिया. आजा माहिया.)
चल रोक ले सूरज छुप जायेगा
पानी में गिर के बुझ जायेगा
(आजा माहिया. आजा माहिया.)

अहिस्ता पुकारो सब सुन लेंगे
बस लबों से छू लो लब सुन लेंगे
ओ आँख भी कल से
फड़क रही है आजा.

आजा माहिया. हो आजा माहिया
आजा माहिया. हो आजा माहिया

माही रे. माही रे.
माही रे. माही रे.
माही रे. माही रे. रे. माही रे. रे.
माही माही रे. माही माही रे.
माही माही रे ... माही माही रे. माही माही रे ...
माही माही रे ... माही माही रे. माही माही रे ...



Credits
Writer(s): Gulzar, Anu Malik
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link