Ey Hairathe

दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"

ऐ हैरते आशिकी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ हैरते आशिकी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत

ऐ हैरते आशिकी, ऐ हैरते आशिकी, ऐ हैरते आशिकी
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"

क्यूँ उर्दू, फारसी बोलते?
क्यूँ उर्दू, फारसी बोलते?
१० कहते हो, २ तौलते हो
झूठों के शहनशाह बोलो ना
कभी झाँकों, मेरी ऑंखें
कभी झाँकों, मेरी ऑंखें सुनाए १ दास्ताँ
जो होठों से खोलो ना

ऐ हैरते आशिकी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ हैरते आशिकी, ऐ हैरते आशिकी, ओ हैरते आशिकी
दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा

२-४ महीन से लम्हों में
२-४ महीन से लम्हों में
उम्रों के हिसाब भी होते हैं
जिन्हें देखा नहीं कल तक
जिन्हें देखा नहीं कल तक
कहीं भी अब कोख में वो चेहरे बोते है

ऐ हैरते आशिकी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ हैरते आशिकी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत

ऐ हैरते आशिकी, ऐ हैरते आशिकी, ओ हैरते आशिकी
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
ओ, दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"



Credits
Writer(s): A R Rahman, Gulzar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link