Pyaar Nahin Karna Jahan

प्यार नहीं करना, जहान सारा कहता है
कोई कुछ कर ले, ये प्यार होके रहता है
हाँ, प्यार नहीं करना, जहान सारा कहता है
कोई कुछ कर ले, ये प्यार होके रहता है

आँख लड़ जाती है
नींद उड़ जाती है
आग लग जाती है
हाय मजबूर होके

दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये, हाँ जी हाँ

तुम मेरे सामने
फिर भी है दूरियाँ
हाय रब्बा आशिकों की, ये मजबूरियाँ

तुम मेरे सामने, आ
फिर भी है दूरियाँ, आ
हाय रब्बा आशिकों की, ये मजबूरियाँ

तेरी याद-याद आये, मेरी जान-जान
तेरी याद-याद आये, मेरी जान-जान जाए

रातों को बजाती है
खन-खन चूड़ियां
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये, हाँ जी हाँ

हम प्यार से चले
जाना है प्यार तक
दरियाँ में डूब के
दरिया के पार तक

हम प्यार से चले
जाना है प्यार तक
दरियाँ में डूब के
दरिया के पार तक

ये हाल-हाल कैसा? ये साल-साल
ये हाल-हाल कैसा? ये साल-साल कैसा?
इक-इक पल लम्बा
इक साल जैसा

दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये

हाँ, प्यार नहीं करना, जहान सारा कहता है
कोई कुछ कर ले, ये प्यार होके रहता है

आँख लड़ जाती है
नींद उड़ जाती है
आग लग जाती है
हाय मजबूर होके

दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये

दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये
दिल देना ही पेंदाये
ग़म लेना ही पेंदाये



Credits
Writer(s): Nusrat Fateh Ali Khan, Khawaja Parvaiz
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link