Matru Ki Bijlee Ka Mandola

गुल्ले की बेगी, बेगी का गुल्ला
जब तंबू खोला, तब खुल्लम खुल्ला

गुल्ले की बेगी, बेगी का गुल्ला
जब तंबू खोला, तब खुल्लम खुल्ला
पहले वो बोला फिर मैं बोला

हे मटरू की बिजली का मंडोला
हे मटरू की बिजली का मंडोला
मटरू रे मटरू मटरू की बिजली
बिजली का मंडोला
हे मटरू की बिजली का मंडोला

चटक चटक दिल चटक चटक दिल
चटक चटक दिल चटका
पटक पटक फिर पटक पटक फिर
पटक पटक फिर पटका
हा चटक चटक दिल चटक चटक दिल
चटक चटक दिल चटका रे
पटक पटक पटक पटक
पटक पटक फिर पटका रे
हरिया का धन डोला

बिजली का तन डोला
रे मटरू का मन डोला हाए

आटे की रोटी, मिट्टी का चूल्हा
पीढ़ी पे दुल्हन, मूढ़े पे दूल्हा

पहले वो बोला फिर मैं बोला
हे मटरू की बिजली का मंडोला
मटरू की बिजली का मंडोला

शिवा को शिलेया, शिवा को शिलेया
शिवा को शिलेया बाविले
शिवा को शिलेया, शिवा को शिलेया
शिवा को शिलेया बाविले
हवा हवीले, दवा नहीं रे
शिवा को शिलेया, शिवा को शिलेया
शिवा को शिलेया बाविले
मटक मटक धर मटक मटक धर
मटक मटक धर मटका
अटक अटक कर अटक अटक कर
अटक अटक कर अटका
मटक मटक धर मटक मटक धर
मटक मटक धर मटका रे
अटक अटक कर अटक अटक कर
अटक अटक कर अटका रे
बोलो तो कब डोला

पहले ज़मीं डोली

पीछे से रब डोला
कोई ना जाने रे कौन था बुल्ला
रे पड़ी जो पोथी तो खुल्लम खुल्ला
पहले वो बोला फिर मैं बोला

हे रे मटरू की बिजली का मनडोला
रर्र मटरू की बिजली का मनडोला
मटरू रे मटरू, मटरू की बिजली
बिजली का मनडोला, हे मटरू की बिजली का मनडोला



Credits
Writer(s): Bhardwaj V, Gulzar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link