Aa Bhi Ja Mere Mehermaan

मेरी ही खातिर बना है तू
मुझको जो हासिल दुआ है तू

तू रास्ता तू रहगुज़र मेरे इश्क़ का है पता
तू जूसतजू तू आरज़ू दिल दे रहा है सदा
आ भी जा मेरे महेरमान
आ भी जा ना रह जुदा
आ भी जा मेरे महेरमान
आ भी जा

बे-इंतेहाँ यूँ चाहूं तुझे मैं
जो टूट के तू बिखरे यहाँ
ख़त्म ना होगी ऐसी मोहब्बत
करने लगा हूँ मैं बेपनाह
क़तरा भी तेरा मिले जो, राग राग मे मेरी बसाऊ
तेरे प्यार को, दीदार को दिल दे रहा है सदा
आ भी जा मेरे महेरमान
आ भी जा ना रह जुदा
आ भी जा मेरे महेरमान
आ भी जा ना रह जुदा

आगोश में यूँ भर के तुझे मैं
सारे जहाँ से कर दू जुदा
हैं अक्स तेरा मेरे लिए ही, तेरा निशान भी मुझसे जुड़ा
ये बेखुदी कैसे थामू, मिटता चला जा रहा हु
एक पल तेरे दीदार को दिल दे रहां है सदा
आ भी जा मेरे मेहरमान आ भी जा ना रह जुदा
आ भी जा मेरे मेहरमान आ भी जा मेरे मेहरमान



Credits
Writer(s): Sachin-jigar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link