Chup Chup Ke

देखना मेरे सर से आसमां उड़ गया हैं
देखना मेरे सर से आसमां उड़ गया हैं
देखना आसमां के सिरे खुल गए हैं ज़मीं से
देखना आसमां के सिरे खुल गए हैं ज़मीं से
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे

देखना क्या हुआ है ये ज़मीं बह रही हैं
देखना पानियों में ज़मीं घुल रही है कहीं से
देखना आसमां के सिरे खुल गए है ज़मीं से
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे

होश में मैं नहीं ये गशी भी नहीं
इस सदी में कभी ये हुआ ही नहीं
जिस्म घुलने लगा रूह गलने लगी
पाँव रुकने लगे राह चलने लगी
आसमां बादलों पर करवटें ले रहा है

देखना आसमां ही बरसने लगे न ज़मीं पे
ये ज़मीं पानियों की डुबकियाँ ले रही हैं
देखना उठके पैरों पे चलने लगे न कहीं पे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे

तुम कहो तो रुकें, तुम कहो तो चलें
ये जुनूँ है अग़र तो जुनूँ सोच लें
तुम कहो तो रुकें, तुम कहो तो चलें
मुझकों पहचानती हैं कहाँ मंज़िलें

देखना मेरे सर से आसमां उड़ गया है
देखना आसमां के सिरे खुल गए है ज़मीं से
देखना क्या हुआ है ये ज़मीं बह रही हैं
देखना पानियों में ज़मीं घुल रही है कहीं से
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे
चुप-चुप के छुप-छुप के चोरी से चोरी
चुप-चुप के छुप-छुप के रे

चुप-चुप के चोरी से चोरी चुप-चुप के रे
चुप-चुप के चोरी से चोरी चुप-चुप के रे
बंटी की बबली और बबली का बंटी, बंटी की बबली हुई
बंटी की बबली और बबली का बंटी, बंटी की बबली हुई



Credits
Writer(s): Gulzar, Ehsaan Loy Shankar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link