Maine Soch Liya

मैंने सोच लिया, मैंने सोच लिया, कुछ भी हो, यार
मैं तो करूँगा तुमसे ही प्यार
मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया, कुछ भी हो, यार
मैं तो करूँगी तुमसे ही प्यार
मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया, हाय, मैंने सोच लिया

बस कुछ दिन की ये जुदाई है, बस कुछ दिन की ये दूरी है
फिर हर मौसम मिलने का है, फिर हर लम्हा सिंदूरी है
क्या हाल बताऊँ इस दिल का, मैं तुमसे कुछ ना कह पाऊँ
इतना बेचैन किया तुमने, एक पल भी दूर ना रह पाऊँ

मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया, कुछ भी हो, यार
मैं तो करूँगी तुमसे ही प्यार
मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया

होंठों से मैंने कुछ ना कहा, बिन बोले सब कुछ बोल दिया
तेरी चाहत का नज़राना तूने मुझको बेमोल किया
ना तो ऐसी रंग-रलियाँ थीं, ना तो ऐसी रुत आई थी
तुमसे मिलने से पहले तो मेरे जीवन में तन्हाई थी

मैंने सोच लिया, मैंने सोच लिया, कुछ भी हो, यार
मैं तो करूँगा तुमसे ही प्यार
मैंने सोच लिया, हाँ, मैंने सोच लिया, कुछ भी हो, यार
मैं तो करूँगी तुमसे ही प्यार

मैंने सोच लिया, हाँ (मैंने सोच लिया, हाँ)
मैंने सोच लिया, हाँ (मैंने सोच लिया)



Credits
Writer(s): Nadeem Shravan, Sameer
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link