Tum Mujhe Yun Bhula Na Paoge (From "Pagla Kahin Ka")

तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
जब कभी भी सुनोगे गीत मेरे
संग संग तुम भी गुनगुनाओगे
हाँ, तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
तुम मुझे यूँ

वो बहारें, वो चाँदनी रातें
हमने की थीं जो प्यार की बातें
वो बहारें, वो चाँदनी रातें
हमने की थीं जो प्यार की बातें
उन नज़ारों की याद आयेगी
जब ख़यालों में मुझको लाओगे
हाँ, तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
तुम मुझे यूँ

मेरे हाथों में तेरा चेहरा था
जैसे कोई गुलाब होता है
मेरे हाथों में तेरा चेहरा था
जैसे कोई गुलाब होता है
और सहारा लिया था बाहों का
वो समां किस तरह भुलाओगे
हाँ, तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
तुम मुझे यूँ

मुझको देखे बिना क़रार न था
एक ऐसा भी दौर गुज़रा है
मुझको देखे बिना क़रार न था
एक ऐसा भी दौर गुज़रा है
झूठ मानो तो पूछ लो दिल से
मैं कहूँगा तो रूठ जाओगे
हाँ, तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
जब कभी भी सुनोगे गीत मेरे
संग संग तुम भी गुनगुनाओगे
हाँ, तुम मुझे यूँ भुला ना पाओगे
तुम मुझे यूँ



Credits
Writer(s): Jaipuri Hasrat, Jaikshan Shankar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link