Yeh Duniya Yeh Mehfil (From "Heer Ranjha")

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं
ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं
ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं

किस को सुनाऊँ हाल दिल-ए-बेक़रार का?
बुझता हुआ चराग़ हूँ अपने मज़ार का
ऐ, काश भूल जाऊँ, मगर भूलता नहीं
जिस धूम से उठा था जनाज़ा बहार का

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं

अपना पता मिले, ना ख़बर यार की मिले
दुश्मन को भी ना ऐसी सज़ा प्यार की मिले
उन को ख़ुदा मिले, है ख़ुदा की जिन्हें तलाश
मुझ को बस इक झलक मेरे दिलदार की मिले

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं

सहरा में आ के भी मुझ को ठिकाना ना मिला
ग़म को भुलाने का कोई बहाना ना मिला
दिल तरसे जिस में प्यार को, क्या समझूँ उस संसार को?
इक जीती बाज़ी हार के मैं ढूँढूँ बिछड़े यार को

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं

दूर निगाहों से आँसू बहाता है कोई
कैसे ना जाऊँ मैं? मुझ को बुलाता है कोई
या टूटे दिल को जोड़ दो, या सारे बंधन तोड़ दो
ऐ, पर्बत, रस्ता दे मुझे, ऐ, काँटों, दामन छोड़ दो

ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं
ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं
ये दुनिया, ये महफ़िल मेरे काम की नहीं, मेरे काम की नहीं



Credits
Writer(s): Madan Mohan, Kaifi Azmi
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link