Aye Dil E Nadan (From "Razia Sultan")

ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान

आरज़ू क्या है?
जुस्तजू क्या है?

ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान

आरज़ू क्या है?
जुस्तजू क्या है?
ऐ दिल-ए-नादान

हम भटकते हैं
क्यूं भटकते हैं?
दश्तो - सेहरा में

ऐसा लगता है
मौज प्यासी है
अपने दरिया मैं

कैसी उलझन है?
क्यूं ये उलझन है?
एक साया सा
रूबरू क्या है?

ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान
आरज़ू क्या है?
जुस्तजू क्या है?

क्या कयामत है?
क्या मुसीबत है?
कह नहीं सकते
किसका अरमान है

जिन्दगी जैसे
खोई - खोई है
हैरान - हैरान है

ये ज़मीं चुप है
आसमा चुप है
फिर ये धड़कन सी
चारसू क्या है?

ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान

ऐसी राहों में
कितने काटे हे
आरज़ू ने
आरज़ू ने

हर किसी दिल को
दर्द बाते हैं
इतने गयीं हे
इतने बिस्मीन हे
इस खुदाई में

एक तू क्या हे
एक तू क्या हे
एक तू क्या हे

ऐ दिल-ए-नादान
ऐ दिल-ए-नादान



Credits
Writer(s): Khayyam, Jan Nisar Akhtar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link