Hum Saath - Saath Hain

फूलों में खुशबू है, इस दिल में एक तू हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं

नैनों में ज्योति है, सीपी में मोती हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं

जैसे हंसों के संग हंसिनी
जैसे चंदा में है चाँदनी
जैसे कवियों की हो भावना
जैसे मन में कोई कामना

दीया और बाती हम साथ-साथ हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं

जैसे आँखों में हो शोखियाँ
जैसे होंठों पे हो सुर्खियाँ
जैसे सावन में झूमें जिया
जैसे सजनी के संग हो पिया

दीया और बाती हम साथ-साथ हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं

फूलों में खुशबू है, इस दिल में एक तू हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं
जन्मों के साथी हम साथ-साथ हैं



Credits
Writer(s): Mitalee Shashank, Raam Laxman, Ravindra Rawal Ki
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link