Mannat (Reprise)

टूटे-टूटे सितारों को दिल के तूने छुआ
असर यूं हुआ तेरा दूर से
झूटे-मूटे से नैना मेरे छलकने लगे
चमकने लगे तेरे नूर से

टूटे-टूटे सितारों को दिल के तूने छुआ
असर यूं हुआ तेरा दूर से
झूटे-मूटे से नैना मेरे छलकने लगे
चमकने लगे तेरे नूर से

अपना ना सही, तू गैर नहीं
मांगे तिल-तिल दिल खैर तेरी
थमती, बढ़ती धड़कन मेरी
पल-पल करती है दुआ

मेरी मन्नत तू, तुझको है तुझसे मांगा
मेरी मन्नत तू, तुझको है मौला माना
मेरी मन्नत तू, तुझको है तुझसे मांगा
मेरी मन्नत तू, तुझको है मौला माना
मेरी मन्नत तू
मेरी मन्नत तू
मेरी मन्नत तू

दहके-दहके से दिल को मेरे
है लगने लगी, हां ठगने लगी यूं आदत तेरी
रफ़्ता-रफ़्ता हदों से मेरी
गुज़रने लगी, उभरने लगी है चाहत तेरी

क़तरा-क़तरा अब माने ना
दरिया-दरिया दिल मांगे हाँ
ये सब्र मेरा, बे-सब्र तेरा करता है तुझसे दुआ

मेरी मन्नत तू, तुझको है तुझसे मांगा
मेरी मन्नत तू, तुझको है मौला माना
मेरी मन्नत तू, तुझको है तुझसे मांगा
मेरी मन्नत तू, तुझको है मौला माना
मेरी मन्नत तू
मेरी मन्नत तू
मेरी मन्नत तू
मेरी मन्नत तू



Credits
Writer(s): Sajid Wajid, Wajid Khan, Kauser Munir
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link