Dil Mein Sama Ke

सावन आवन कह गए
कर गए क़ौल अनेक
गिनते-गिनते घिस गई
उँगलियों की रेख

हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के...

तुझे तारों ने देखा, तुझे चंदा ने देखा
एक हम ही अभागे, तुझे हम ने ना देखा
मेरे सपनों में आए, पर ऐसे ना आए

हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के...

तुझे अखियाँ बुलाएँ, सूनी रतियाँ बुलाएँ
आके मिल जा, कन्हैया, हाय हम कैसे आएँ?
मेरे नैना लगे ना जब से नैना लगाए

हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए

हो, दिल में समा के मिलने ना आए
कैसे तुम अपने, कैसे पराए
हो, दिल में समा के...



Credits
Writer(s): Jaikshan Shankar, Shailendra
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link