Darbadar

दिल में दरारें, दिल में दरारें
दिल में दरारें ही दरारें, दिल में कई हैं दरारें
यादें तेरी हैं दरारें

टूटे जो तिनका तो हवा का आसरा
टूटा सितारा तो दुआ का आसरा
दिल टूट जाए तो वो जाए कहाँ?

दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
दरबदर का हमसफ़र ना कोई
दरबदर की मंज़िल

दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
दरबदर का हमसफ़र ना कोई
दरबदर की मंज़िल

सा नि नि, गा मा गा मा
गा मा गा मा गा मा गा रे सा
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि रे

हैं अधूरे सिरे जो वो खुले ही रहें तो
तुम से ही थे, यही मान के हम चलें तो?

ये जो थोड़ा शिकवा है
तेरा-मेरा गिला है, 'गर होता नहीं
चाहे लगे या ना लगे
दिल टूटने का डर होता नहीं

सोचा है पहले भी कितना
पर होता नहीं

दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
दरबदर का हमसफ़र ना कोई
दरबदर की मंज़िल

दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
दरबदर का हमसफ़र ना कोई
दरबदर की मंज़िल

सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा गा मा

सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि
सा नि रे सा गा रे सा नि धा नि

दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
दरबदर का हमसफ़र ना कोई
दरबदर की मंज़िल

सा नि धा पा गा पा धा नि
दरबदर, है दरबदर खुदाया
दरबदर है बेख़बर ये दिल
मौला (दरबदर का हमसफ़र ना कोई)
(दरबदर की मंज़िल) मौला



Credits
Writer(s): Mayur Puri
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link