Akhiyaan Milaoon Kabhi (From "Raja")

अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?

हाँ, अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
कभी घबराऊँ, कभी गले लग जाऊँ
मेरा ख़ुद पे नहीं क़ाबू

बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू

अखियाँ मिलाए, कभी अखियाँ चुराए
क्या मैंने किया जादू?
अखियाँ मिलाए, कभी अखियाँ चुराए
क्या मैंने किया जादू?
कभी घबराए, कभी गले लग जाए
तेरा ख़ुद पे नहीं क़ाबू

बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू

ऐसे तो, दीवाने, मुझे प्यार ना कर
आती है शरम, दीदार ना कर
चैन चुरा के, तकरार ना कर
तुझ को क़सम, इनकार ना कर

तेरे अरमानों में सँवर गई मैं
तूने मुझे देखा तो निखर गई मैं
देखा जब तुझ को, ठहर गया मैं
ऐसी ही अदाओं पे तो मर गया मैं

अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
Aye, अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
कभी घबराऊँ, कभी गले लग जाऊँ
मेरा ख़ुद पे नहीं क़ाबू

बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू

मेरी जान-ए-जानाँ, क्या चीज़ है तू
मुझ को तो जाँ से अज़ीज़ है तू
इतनी ना कर तारीफ़ मेरी
जानूँ मैं तो जानूँ, चाहत क्या तेरी

तेरी उल्फ़त का नशा छा गया
कुछ भी हो, जान-ए-जाँ, मज़ा आ गया
धीरे-धीरे दुनिया से दूर हुई
इश्क़ में तेरे मैं तो चूर हुई

अखियाँ मिलाए, कभी अखियाँ चुराए
क्या मैंने किया जादू?
Hey, अखियाँ मिलाए, कभी अखियाँ चुराए
क्या मैंने किया जादू?
कभी घबराए, कभी गले लग जाए
तेरा ख़ुद पे नहीं क़ाबू

बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू

अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
अखियाँ मिलाऊँ, कभी अखियाँ चुराऊँ
क्या तूने किया जादू?
कभी घबराऊँ, कभी गले लग जाऊँ
मेरा ख़ुद पे नहीं क़ाबू

बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू
बिना पायल के ही बजे घुँघरू



Credits
Writer(s): Sameer Anjaan, Shrawan Rathod, Nadeem Akhtar Saifi
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link