Iktara

ओ-रे, मनवा, तू तो बावरा है
तू ही जाने तू क्या सोचता है
तू ही जाने तू क्या सोचता है, बावरे
क्यूँ दिखाए सपने तू सोते-जागते?

जो बरसें सपने बूँद-बूँद
नैनों को मूँद-मूँद (नैनों को मूँद-मूँद)
जो बरसें सपने बूँद-बूँद, नैनों को मूँद-मूँद
कैसे मैं चलूँ? देख ना सकूँ अंजान रास्ते

गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा

धीमे बोले कोई इकतारा-इकतारा
धीमे बोले कोई इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा

सुन रही हूँ सुद-बुद खो के कोई मैं कहानी
पूरी कहानी है क्या, किसे है पता?
मैं तो किसी के होके ये भी ना जानी
रुत है ये दो पल की, या रहेगी सदा

किसे है पता?
किसे है पता?
(किसे है पता?)

जो बरसें सपने बूँद-बूँद
नैनों को मूँद-मूँद (नैनों को मूँद-मूँद)
जो बरसें सपने बूँद-बूँद, नैनों को मूँद-मूँद
कैसे मैं चलूँ? देख ना सकूँ अंजाने रास्ते

गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा

धीमे बोले कोई इकतारा-इकतारा
धीमे बोले कोई इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा-इकतारा
गूँजा सा है कोई इकतारा



Credits
Writer(s): Javed Akhtar, Amit Trivedi
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link