Tere Ishq Mein Nachenge (From "Raja Hindustani")

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा
हाँ, डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
हम जश्न मनाएँगे, सागर छलकाएँगे
ना होश में आएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, झूमेंगे, गाएँगे
हम तो लुट जाएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
हम जश्न मनाएँगे, सागर छलकाएँगे
ना होश में आएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तूने तड़पाया है, तुझ को तड़पाएँगे
तुझ को तड़पाएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा
हाँ, डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा

गालों की लाली है तेरे लिए
होंठों की प्याली है तेरे लिए

हो-हो, गालों की लाली है तेरे लिए
होंठों की प्याली है तेरे लिए
हाँ, दिल चाहिए? दिलरुबा चाहिए?
इतना बता, तुझ को क्या चाहिए?

ये हुस्न की जागीरें हम तुझ पे लुटाएँगे
तुझे दिल में बसाएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है

तेरी तिजोरी का सोना नहीं
दिल है हमारा, खिलौना नहीं

हो-हो, तेरी तिजोरी का सोना नहीं
दिल है हमारा, खिलौना नहीं
कैसे खरीदोगे तुम प्यार में?
बिकते नहीं दिल ये बाज़ार में

वो चीज़ नहीं है हम जो यूँ बिक जाएँगे
हम तो टकराएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा
हाँ, डम-डम-डुबा-डुबा-डुबा-डुबा, डम-डम-डुबा-डुबा

(ए, कहाँ से आया है तू?)
(Umm, हम को तो लगता, पराया है तू)

अपनों की महफ़िल में बेगाने हम
सब की असलियत को पहचाने हम

हो-हो, अपनों की महफ़िल में बेगाने हम
सब की असलियत को पहचाने हम
पत्थर की मूरत से टकरा गए
अच्छा हुआ, होश में आ गए

औक़ात किसी की क्या, हम सब को बताएँगे
अब ना शरमाएँगे, हाँ-हाँ-हाँ

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

उफ़, क्या रात आई है! मोहब्बत रंग लाई है
हम जश्न मनाएँगे, सागर छलकाएँगे
ना होश में आएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तूने तड़पाया है, तुझ को तड़पाएँगे
तुझ को तड़पाएँगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे

तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, हो, तेरे इश्क़ में नाचेंगे
तेरे इश्क़ में नाचेंगे, तेरे इश्क़ में नाचेंगे



Credits
Writer(s): Sameer Anjaan, Shravan Rathod, Nadeem Saifi, Pratham Thakur, Ravinder Roby
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link