Banke Tera Jogi

तू यार, तू ही दिलदार, तू ही मेरा प्यार, तेरा मेरे दिल में है दरबार
कर दे एक बार बेड़ा पार, मुझे घर-बार लगे बेकार, फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

तू यार, तू ही दिलदार, तू ही मेरा प्यार, तेरा मेरे दिल में है दरबार
कर दे एक बार बेड़ा पार, मुझे घर-बार लगे बेकार, फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

Hey, ल, रा, रा, रे, रा, रा, रे, रा, रे, रा, रे, आ
(हो)
(हो)
(हो)

कहता है दीवाना, तेरा ही अफ़साना
तेरे बिन दुनिया में क्या खोना! क्या पाना!
आरज़ू है, दिल है, तू ही तू

तेरे संग बना हूँ मलंग, तो सब है दंग, हुई ये दुनिया मुझसे तंग
लाई है उमंग, इक तरंग, बाजे मृदंग, तो बदले ढंग फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

तू यार, तू ही दिलदार, तू ही मेरा प्यार, तेरा मेरे दिल में है दरबार
कर दे एक बार बेड़ा पार, मुझे घर-बार लगे बेकार, फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

(हो)
(हो)
(हो)

धरती के आँगन में, अंबर के दामन में, सूरज की किरणों में, सागर की लहरों में, है कहीं हर सू, है तू ही तू
सब लोग मनाएँ शोक, कहें, "ये जोग है मेरे मन का कोई रोग"
है ये प्रेम आग, तो बेलाग रात को जागता हूँ, मैं राग, फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

तू यार, तू ही दिलदार, तू ही मेरा प्यार, तेरा मेरे दिल में है दरबार
कर दे एक बार बेड़ा पार, मुझे घर-बार लगे बेकार, फिरूँ मैं

बनके तेरा जोगी

बनके तेरा जोगी (हो, हई)
बनके तेरा जोगी (तेरा जोगी, तेरा जोगी)
बनके तेरा जोगी (हो, हई)
बनके तेरा जोगी (जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
बनके तेरा जोगी (जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)

हो यार (जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
हो यार (जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
मेरे दिल में तेरा दरबार (जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
(जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
(जोगी-जोगी, तेरा जोगी-जोगी)
(जोगी)



Credits
Writer(s): Jatin Pandit, Javed Akhtar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link