Lo Chali Main

लो चली मैं...
लो चली मैं, अपने देवर की बारात लेके, लो चली मैं
लो चली मैं, अपने देवर की बारात लेके, लो चली मैं
ना बैंड-बाजा, ना ही बाराती, खुशियों की सौग़ात लेके
लो चली मैं, अपने देवर की बारात लेके, लो चली मैं

देवर दूल्हा बना, सर पे सेहरा सजा
भाभी बढ़ कर आज बलैया लेती है
प्रेम की कलियाँ खिलें, पल-पल खुशियाँ मिलें
सच्चे मन से आज दुआएँ देती है

घोड़े पे चढ़ के चला है बाँका अपनी दुल्हन से मिलने
लो चली मैं...
लो चली मैं, अपने देवर की बारात लेके, लो चली मैं

वाह-वाह, राम जी! जोड़ी क्या बनाई
देवर-देवरानी जी, बधाई हो, बधाई
सब रस्मों से बड़ी है जग में दिल से दिल की सगाई

आई है शुभ घड़ी, आज बनी मैं बड़ी
कल तक घर की बहू ते अब हूँ जेठानी
हुक्म चलाऊँगी मैं, आँख दिखाऊँगी मैं
सहमी खड़ी रहेगी मेरी देवरानी

१००० सपने पलकों में अपने दीवानी मैं साथ लेके
लो चली मैं...
लो चली मैं, अपने देवर की बारात लेके, लो चली मैं



Credits
Writer(s): Raam Laxman, Ravinder Rawal
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link