Ek Shaqs

एक शक़्स रास्ते में कहीं छूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था
एक शक़्स रास्ते में कहीं छूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था

वह शक़्स जिसके काँधे पे सर रखे मैं सोया
सीने से लगके जिसके कहीं बार में रोया
जिसके ज़ुल्फ़ों के खुसबू में रातों में खोया
जिस जिस्म की बरसात में यह जिस्म भिगोया

एक दिन किसी बात पे जब वह रूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था
एक दिन किसी बात पे जब वह रूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था

एक शक़्स रास्ते में कहीं छूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था

रहता हूँ क़ैद अभी जिसकी यादों के पहरे में
है लब्ज़ जिसका ज़िंदा मेरी बाहों के घेरे में
जिसके ख़्वाबों को मैंने नींद में संजोया
जिसके अशक्को को मैंने अपनी आँखों पे पिरोया

एक दिन किसी बात पे जब वह रूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था
एक दिन किसी बात पे जब वह रूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था

एक शक़्स रास्ते में कहीं छूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था

एक शक़्स रास्ते में कहीं छूट गया था
उस हादसे के बाद यह दिल टूट गया था
एक शक़्स रास्ते में
रास्ते में



Credits
Writer(s): Mithoon, Sayeed Quadri
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link