Tumse Milne Ko Dil (From "Phool Aur Kaante") [with Alka Yagnik]

रुक जाना, रुक जाना
रुक जाना, रुक जाना

तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है
तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
कि तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

जब से तुमसे शुरू ये कहानी हुई
जब से तुमसे शुरू ये कहानी हुई
लोग कहते हैं मैं तो दीवानी हुई

जाने क्या बात ऐसी है तुझमें, सनम
जाने क्या बात ऐसी है तुझमें, सनम
जाने क्या बात ऐसी है तुझमें, सनम

ये दिल तेरे लिए ही मचलता है
तुमसे मिलने को दिल करता है

तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

दूर तुमसे रहूँ तो हो बेचैनियाँ
दूर तुमसे रहूँ तो हो बेचैनियाँ
पास आऊँ तो बढ़ती हैं बेताबियाँ

हो ना जाए कहीं तू मुझसे जुदा
हो ना जाए कहीं तू मुझसे जुदा
हो ना जाए कहीं तू मुझसे जुदा

ऐसी बातों से दिल डरता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है

तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
तुम ही हो जिस पे दिल मरता है
कि तुमसे मिलने को दिल करता है
रे बाबा, तुमसे मिलने को दिल करता है



Credits
Writer(s): Shrawan Rathod, Rani Malik, Nadeem Akhtar Saifi
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link