Kuch Kuch Hota Hai - Sad

जान-ए-वफ़ा, होके बेक़रार
जान-ए-वफ़ा, होके बेक़रार
बरसों किया मैंने इंतज़ार
पर कभी तूने नहीं ये तब कहा
जो अब कहा

दिल बेबसी में चुपके से रोता है
क्या करूँ, हाय, कुछ-कुछ होता है
क्या करूँ, हाय, कुछ-कुछ होता है



Credits
Writer(s): Lalitraj Pandit, Sameer Anjaan, Jatin Pandit
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link