Meri Gori Gori Bahen - From "Banarasi Babu"

मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?
मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?
ऐसे क्यूँ डरता है? क्यूँ आहें भरता हैं?

ना सर पे पल्लू डाले, ना मुझसे शरमाएँ
ना धीरे-धीरे बोले, ना चूड़ी खनकाएँ
ना सर पे पल्लू डाले, ना मुझसे शरमाएँ
ना धीरे-धीरे बोले, ना चूड़ी खनकाएँ
ये कैसी दुल्हन है? ये मेरी उलझन है

मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?

तू मेरा Romeo, मैं तेरी Juliet
आ, तुझ पे डाल दूँ बिख़री-बिख़री ये लट
तू मेरा Romeo, मैं तेरी Juliet
आ, तुझ पे डाल दूँ बिख़री-बिख़री ये लट

मैं छोरा गाँव का, अंग्रेज़ी मेम तू
घूँघट पट डाल के आ मेरे रू-ब-रू
घूँघट पट डाल के आ मेरे रू-ब-रू

मेरी उलझी-उलझी ज़ुल्फ़ें, ज़ुल्फ़ों को सुलझा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?
ना सर पे पल्लू डाले, ना मुझसे शरमाएँ
ना धीरे-धीरे बोले, ना चूड़ी खनकाएँ
ऐसे क्यूँ डरता है? क्यूँ आहें भरता हैं?

मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?

गालों को चूम लें, बाँहों में झूल जा
होंठों का रंग लें, दुनिया को भूल जा
गालों को चूम लें, बाँहों में झूल जा
होंठों का रंग लें, दुनिया को भूल जा

ना कोई शर्म है, ना कोई लाज है
तोरे इस रोग का अब का ईलाज है?
तोरे इस रोग का अब का ईलाज है?

मेरी ठंडी-ठंडी साँसें, साँसों को गरमा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?
ना सर पे पल्लू डाले, ना मुझसे शरमाएँ
ना धीरे-धीरे बोले, ना चूड़ी खनकाएँ
ये कैसी दुल्हन है? ये मेरी उलझन है

मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?
मेरी गोरी-गोरी बाँहें, बाँहों में आजा ना
अब कैसा घबराना हैं? अब कैसा शरमाना?



Credits
Writer(s): Anand Chitragupt, Milind Chitragupta, N/a Sameer, Milind Chitragupt
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link