Tum Bin

तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी

तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी
तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी

सन्नाटे हँसेंगे मुझपर
यादों की बारात होगी

तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी

हम भी चुपके से कहीं बैठे रोया करेंगे
हाँ, हम भी चुपके से कहीं बैठे रोया करेंगे
आँसू पी लेंगे, लब सी लेंगे, ऐसे जी लेंगे

नैनों में बरसात होगी
दीवारों से बात होगी

सन्नाटे हँसेंगे मुझपर
यादों की बारात होगी

तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी

सपने पलकों में कहीं नीदों को ढूँढा करेंगे
हाँ, सपने पलकों में कहीं नीदों को ढूँढा करेंगे
कैसे कटेगी यादों की घड़ियाँ, दिल सोच के डरता है

तन्हाई जब साथ होगी
दीवारों से बात होगी

सन्नाटे हँसेंगे मुझपर
यादों की बारात होगी

तुम बिन जब रात होगी
दीवारों से बात होगी



Credits
Writer(s): Bappi Lahiri, Sameer
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link