Tumhen Yaad Hoga Kabhi Hum Mile The

तुम्हें याद होगा, कभी हम मिले थे
तुम्हें याद होगा, कभी हम मिले थे
मोहब्बत की राहों में मिल के चले थे
भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे
सपना ही समझो कि मिल के चले थे
भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे

डूबा हूँ ग़म की गहराइयों मे
सहारा है यादों का तन्हाइयों में
डूबा हूँ ग़म की गहराइयों मे
सहारा है यादों का तन्हाइयों में
सहारा है यादों का तन्हाइयों में

भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे

कहीं और दिल की दुनिया बसा लो
क़सम है तुम्हें, वो क़सम तोड़ डालो
कहीं और दिल की दुनिया बसा लो
क़सम है तुम्हें, वो क़सम तोड़ डालो
क़सम है तुम्हें, वो क़सम तोड़ डालो

तुम्हें याद होगा, कभी हम मिले थे

नई दिल की दुनिया बसा ना सकूँगा
जो भूले हो तुम, वो भुला ना सकूँगा
नई दिल की दुनिया बसा ना सकूँगा
जो भूले हो तुम, वो भुला ना सकूँगा
जो भूले हो तुम, वो भुला ना सकूँगा

भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे

अगर ज़िंदगी हो अपने ही बस में
तुम्हारी क़सम, हम ना भूलें वो क़स्में
अगर ज़िंदगी हो अपने ही बस में
तुम्हारी क़सम, हम ना भूलें वो क़स्में
तुम्हारी क़सम, हम ना भूलें वो क़स्में

तुम्हें याद होगा, कभी हम मिले थे
मोहब्बत की राहों में मिल के चले थे
भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे
सपना ही समझो कि मिल के चले थे
भुला दो, मोहब्बत में हम-तुम मिले थे



Credits
Writer(s): Anandji V Shah, Gulshan Bawra, Kalyanji Virji Shah
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link