Suniyo Ji Ek Araj (From "Lekin")

आ, आ
आ, आ
सुनियो जी, अरज म्हारी, ओ, बाबुला हमार

सुनियो जी, अरज म्हारी, ओ, बाबुला हमार
सावन आयो, घर लै जइहो
सावन आयो, सावन आयो
घर लै जइहो, बाबुला हमार
सुनियो जी, सुनियो जी, सुनियो

भीजे-भीजे अँगना की याद जो आवे
भीजे-भीजे अँगना की याद जो आवे
रूखी-रूखी अँखियों में रेती उड़ावे
रूखी-रूखी अँखियों में रेती उड़ावे

सूनी-सूनी, सूनी-सूनी
सूनी-सूनी, कोरी अँखिया
भेजियो फुहार

सुनियो जी, अरज म्हारी ओ

सा, रे, ग, ग
ध, ध, प, ग
सा, सा, नि, ध
ग, प, सा, नि, ध
ग, नि, ध, प
ग, ध, प, ग
सा, रे, ध, सा
सुनियो!

बिसरा दियो है काहे? बिदेस भिजाय के
बिसरा दियो है काहे? बिदेस भिजाय के
हमका बुलाय रे बाबुल, डोलिया लिवाय के
हमका बुलाय रे बाबुल, डोलिया लिवाय के

भेजो जी, भेजो जी
भेजो जी, डोली उठाये
चारों कहार

सुनियो जी, अरज म्हारी, ओ, बाबुला हमार
सावन आयो, घर लै जइहो, बाबुला हमार
सुनियो जी, सुनियो जी, सुनियो जी



Credits
Writer(s): Hridaynath Mangeshkar, Gulzar
Lyrics powered by www.musixmatch.com

Link